[सूची] प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट 2021 | PMAY-G ग्रामीण आवास संशोधित लिस्ट

पीएम ग्रामीण आवास योजना लिस्ट, PMAY-G ग्रामीण आवास संशोधित सूची देखे, Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List in Hindi, PMAYG List 2021 Online, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण लिस्ट, आवास योजना पात्रता सूची की जानकारी आपको इस लेख में दी जाएगी। यहाँ इस लेख में हम आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट 2021 की चरण-दर-चरण जानकारी साझा करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2015 में उन सभी नागरिको के लिए जो अभी तक झुग्गी झोपड़ियों में रहने के लिए मजबूर है प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY-G) की शुरुआत की थी।

प्रधानमंत्री शहरी /ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा उन परिवारों को अपने स्वयं के आवास के लिए आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाती है जो अभी तक खुले में जीवन व्यतीत कर रहे हैं। केंद्र सरकार की इस कल्याणकारी योजना के अंतर्गत अब तक अनेको परिवारों को स्वयं के आवास उपलब्ध कराये गए हैं। इस परियोजना के अंतर्गत शहरी व ग्रामीण इलाको में परिवारों को आवास निर्माण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

बहुत से ग्रामीण क्षेत्रों के निवासिओं ने प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना और शहरी क्षेत्र के निवासिओं ने प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना के अंतर्गत आवेदन किए है। अब वे सभी लोग Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List में अपना नाम आने का इंतजार कर रहे है। तो अब आपको और समय इंतज़ार नहीं करना पड़ेगा क्युकी अब ग्रामीण आवास योजना की लिस्ट PMAY- Gramin की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी की जा चुकी है। सूचि देखने नीचे दिए गए लेख को ध्यान से पढ़े।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना PMAY-G संशोधित लिस्ट

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत वर्ष 2021 के लिए सम्बंधित विभाग द्वारा नयी संशोधित प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट जारी की गयी है। जिन भी आवेदकों ने इस वर्ष के अंतर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए आवेदन किया था वह सभी ऑनलाइन माध्यम से प्रधान मंत्री आवास योजना लाभार्थी सूची में नाम की खोज कर सकते है।

यहाँ इस लेख में हम आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे। यदि आप ग्रामीण क्षेत्र में निवास करते हैं तब आप दिए गए चरणों के द्वारा आसानी से अपना आवेदन के सम्बन्ध में लाभार्थी सूची की जाँच कर सकते हैं। इस लेख में हम आपको पंजीकरण संख्या व अग्रिम खोज विधि द्वारा प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना PMAY-G संशोधित लिस्ट देखने की प्रकिया के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे।

PM Gramin Awas Yojana

ग्रामीण आवास योजना में यूपी के 6 लाख लाभार्थी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 20 जनवरी 2021 को ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य के लाभार्थियों को 2691 करोड रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की है। प्रधानमंत्री जी ने इस वित्तीय सहायता की घोषणा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की थी। यह राशि एक सिंगल क्लिक के माध्यम से सभी लाभार्थियों के बैंक खाते में पहुंचा दी गई है। लगभग 6.1 लाख  लाभार्थी वित्तीय सहायता का लाभ प्राप्त करेंगे। इस अवसर पर प्रधानमंत्री जी ने लाभार्थियों के साथ संवाद भी किया।

  • यह राशि स्कूल 6.1 लाख लाभार्थियों को प्रदान की गई है जिसमें 5.3 लाख लाभार्थी पहली किस्त प्राप्त कर रहे हैं और 80000 ऐसे भी लाभार्थी हैं जो दूसरी किस्त की राशि प्राप्त कर रहे हैं। इस अवसर पर केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी एवं उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी शामिल थे।
  • प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत अब तक देश में 1 करोड़ 26 लाख पक्के मकानों का निर्माण किया जा चुका है अब इस योजना के अंतर्गत निर्माण के लिए जगह को 20 वर्ग मीटर से बढ़ाकर 25 वर्ग मीटर कर दिया गया है जिसमें रसोई क्षेत्र भी शामिल किया गया है।
  • वर्ष 2015 में शुरू की गई इस प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना मैं मैदानी इलाकों में घर बनाने के लिए 1.2  लाख रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी और वही पहाड़ी इलाकों में घर बनाने के लिए 1.3 लाख  रुपए की वित्तीय सहायता दी जाएगी।
  • यह योजना देश के कमजोर वर्ग के लोगों को अपना खुद का पक्का मकान बनवाने या फिर पुराने घर की मरम्मत करवाने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करती है।

ग्रामीण आवास योजना की लागत (अपडेटेड डेटा)

इस योजना के तहत कुल 1, 30, 075 करोड़ की लगत में लगभग 1 करोड़ मकानों का निर्माण किया जायेगा। यह लागत केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा 60:40 के आधार पर वहन की जाएगी। उत्तर पूर्वी राज्यों और तीन हिमाचल राज्यों (जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश) के मामले में यह अनुपात 90: 10 है। ग्रामीण आवास योजना 2021 के तहत केंद्र शासित प्रदेशों के मामले में, संपूर्ण लागत केंद्र सरकार द्वारा वहन की जाएगी। इस योजना के तहत कुल लागत में केंद्रीय हिस्सा 81,975 करोड़ रुपये होगा, जिसमें से 60000 करोड़ रुपये बजटीय सहायता से मिलते हैं और शेष 21,975 करोड़ रुपये राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक से लोन लेकर मिलेंगे। जिसे बजटीय अनुदान के साथ 2022 के बाद ठीक किया जाएगा।

पीएम ग्रामीण आवास योजना 2021

इस योजना के तहत, केंद्र सरकार ग्रामीण क्षेत्रों के कमजोर वर्गों को अपना पक्का घर बनाने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है और पुराने घर को स्थायी बनाने के लिए आर्थिक मदद भी कर रही है। पीएम ग्रामीण आवास योजना 2021 के तहत, केंद्र सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को समतल क्षेत्रों में घरों के निर्माण के लिए 120, 000 रुपये और पहाड़ी क्षेत्रों के लिए 130, 000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है।

Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana

सरकार द्वारा चलाई गयी इस ग्रामीण आवास योजना 2021 के तहत, वांछित लाभार्थियों को 2022 तक, 1 करोड़ पक्के मकान उपलब्ध कराए जायेंगे । इस योजना के लिए, लाभार्थियों का चयन 2011 की जनगणना के आधार पर किया जाएगा। प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट 2021 के माध्यम से, ग्रामीण क्षेत्रों में आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को पक्के मकान बनाने के लिए दी जाने वाली धनराशि सीधे बैंक खाते में स्थानांतरित की जाएगी और इस राशि से ग्रामीण क्षेत्रों के लोग अपना घर बनाने का सपना पूरा कर सकेंगे।

प्रधानमंत्री आवास योजना का शुरू हुआ अंतिम चरण

जैसा कि आप जानते हैं पीएम आवास योजना का लक्ष्य वर्ष 2022 तक सबके पास अपना पक्का मकान उपलब्ध कराना था। यह लक्ष्य 2022 तक साबित होने की पूरी तरह से उम्मीद भी की जा सकती है। अब तक इस योजना के तहत 1.19 करोड पक्के मकान बनाए जा चुके हैं और कहा जा रहा है कि अगले 2 वर्षों में 94 लाख पक्के मकान और बनाए जाएंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने अपनी सरकार के बनते ही यह वादा किया था कि वर्ष 2022 तक सब को पक्के मकान उपलब्ध कराए जाएंगे। और यह अपने वादे को पूरा भी करने जा रहे हैं। इसी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए ग्रामीण विकास मंत्रालय ने इसे एक चुनौती की तरह स्वीकार किया और सभी ग्रामीण क्षेत्रों में गरीबों को पक्का मकान बनाने के लिए योजना के तहत लाभ प्रदान किया।

लक्ष्य पूरा करने में 94 लाख मकान बाकी

योजना के पहले चरण में लगभग एक करोड मतान बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। परंतु पहले चरण में केवल 91 पॉइंट 22 लाख गरीबों को ही मकान बनाने में सफलता प्राप्त हुई थी। इस चरण में कुल लागत 1.13 लाख रुपए की लागत मंजूर की गई थी। इसके साथ ही दूसरे चरण में 1 पॉइंट 23 करोड़ गरीबों को चिन्हित किया गया था। परंतु इस लक्ष्य के विपरीत केवल 91.93 लाख लोगों को ही मकान उपलब्ध कराए जा सकें । जिसकी कुल लागत 72000 करोड रुपए थी। अर्थात दोनों चरणों में कुल 2 पॉइंट 23 करोड मकान बनाने का लक्ष्य रखा गया था जिसमें से कुल 1 पॉइंट 83 करोड मकान है बनाए थे। इसलिए हम कह सकते हैं कि आप इस योजना के तहत केवल 94 लाख और पक्के मकान बनाए जाने वाले हैं। इसलिए जो भी व्यक्ति इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं। आवेदन के लिए नीचे प्रक्रिया को सांझा कर दिया गया है इसे ध्यान से पढ़ें।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की कुल लागत

इस योजना के तहत, 1, 30, 075 करोड़ की कुल लागत के साथ लगभग 1 करोड़ घरों का निर्माण किया जाएगा।  केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा यह लागत 60:40 के अनुपात में वहन की जाएगी। उत्तर पूर्वी राज्यों और तीन हिमाचल राज्यों ; जम्मू और कश्मीर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के मामले में यह अनुपात 90: 10. होगा । केंद्र शासित प्रदेशों के मामले में, Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana 2021 के तहत , संपूर्ण लागत केंद्र द्वारा वहन की जाएगी। इस योजना की कुल लागत का केंद्रीय हिस्सा 81,975 करोड़ रुपये होगा, जहा  बजटीय सहायता से 60000 करोड़ रुपये आते हैं और शेष राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक से 21,975 करोड़ रुपये जिसका निर्णय  2022 के बाद बजटीय अनुदान के साथ लिया  जाएगा।

Summary of PM GraminAwas Yojana

योजना का नाम प्रधानमंत्री आवास योजना
शुरू की गई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा
शुरुआत की तिथि 17.06.2015
योजना के लाभ बेघरों को आवास की उपलब्धता
उद्देश्य आवास उपलब्ध कराना
लाभार्थी बेघर नागरिक
श्रेणी Central Government Scheme
आधिकारिक वेबसाइट www.pmaymis.gov.in/

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट का उद्देश्य

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना सूची का मुख्य उद्देश्य हर नागरिक को घर बैठे लाभार्थी सूची में अपना नाम देखने की सुविधा प्रदान करना है। प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना देश के प्रत्येक व्यक्ति को अपना  घर उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई है। सरकार द्वारा प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की पूरी प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया गया है। अब आप घर पर प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना सूची की जाँच कर सकते हैं। इस सूची में अपना नाम देखने के लिए, आपको किसी सरकारी दफ्तर  में जाने की आवश्यकता नहीं है। आप बस आधिकारिक वेबसाइट जाकर अपना नाम प्रधानमंत्री आवास योजना सूची में देख सकेंगे। यह सूची ऑनलाइन उपलब्ध होने के कारण, अब आप समय और धन दोनों बचाएंगे और सिस्टम में पारदर्शिता आएगी।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना में राजसमंद जिले को पहला स्थान

केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय की ओर से इस योजना के कार्यान्वयन की रैंकिंग जारी की जाती है। 16 दिसंबर 2020 को केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय ने इस रैंकिंग को जारी किया है। प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत राजस्थान का राजसमंद जिला पहले स्थान पर आता है। पिछले 3 वर्ष में राजसमंद जिला में 10 हजार 289 आवास निर्माण का लक्ष्य रखा गया था। इस लक्ष्य को देखते हुए जिले में 10 हजार 79 घर बनाये गए है। इसका मतलब यह है कि राजसमंद जिले में 98.07 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त किया गया है, जिसके चलते इस जिले ने राष्ट्रीय स्तर पर पहला स्थान प्राप्त किया है। पिछले 5 माह से राजसमंद जिला राजस्थान में पहले स्थान पर है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन में पहले 50 में से राज्य के 14 जिले शामिल हैं। जोकि राजसमंद, बूंदी, डोसा, डूंगरपुर, सवाई माधोपुर, पाली, भीलवाड़ा, हनुमान नगर, नागौर, श्रीगंगानगर, प्रतापगढ़, बांसवाड़ा, उदयपुर तथा जालौर है।  इस सूची में आए सभी परिवारों को आवास की मंजूरी दी गई है, जैसे ही अनुमति भारत सरकार द्वारा दी जाएगी, पात्र परिवारों के घरों का निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

  • प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत प्रथम चरण में  6.87 लाख आवासीय इकाइयों के निर्माण का लक्ष्य रखा गया है। अभी तक 6.70 लाख आवास का निर्माण किया जा चूका है।
  • इसके दूसरे चरण में 65.35 प्रतिशत आवास का निर्माण किया जा चूका है। इन सभी को 2011 जनगणना की परमानेंट प्रिफरेंस लिस्ट के आधार पर बनाया गया है।
  • इस लिस्ट में सभी परिवारों के प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवासीय निर्माण को मंजूरी मिली हुई है। भारत सरकार की अनुमति के बाद आवास का निर्माण किया जायेगा।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लाभार्थियों का चयन

  • इस योजना के तहत, SECC 2011 के आंकड़ों में आवास की कमी को दर्शाने वाले मापदंडों के आधार पर, लाभार्थियों का चयन या निर्धारण किया जाता है, जिसके बाद ग्राम सभा इसका सत्यापन करती है।
  • PMAY-G ग्रामीण आवास संशोधित सूची के तहत, BPL सूची के स्थान पर, SECC 2011 के आंकड़ों के अनुसार, लाभार्थियों का चयन होगा, जिसमे बेघर परिवारों या एक या 2 खुरदरी दीवारों और मिट्टी की छत वाले घरों में रहने वाले लोगों को चुना जाएगा।एससी, एसटी, अल्पसंख्यक और अन्य जैसे प्रत्येक श्रेणी के बेघर परिवारों और एक या 2 कच्चे कमरों के आधार पर पात्र लाभार्थियों को पहले प्राथमिकता दी जाएगी।
  • इस योजना का लाभ की प्राथमिकता में अंतर्गत वे लोग नहीं आते जो अनुसूचित जातियों, अल्पसंख्यकों और ऐसे प्रत्येक वर्ग के परिवार जिनके पास 1 या 2 कमरों से अधिक कमरों के मकान है।

पीएम ग्रामीण आवास योजना से यूपी के 6 लाख लोगों को लाभ

बुधवार, 20-01-2021 को, हमारे देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी ने ग्रामीण आवास योजना के तहत उत्तर प्रदेश के लाभार्थियों के लिए 2691 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता जारी की है। इस वित्तीय सहायता की घोषणा प्रधानमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की। सिंगल क्लिक के माध्यम से सभी लाभार्थियों के बैंक खाते में राशि हस्तांतरित की गई। इस वित्तीय सहायता के माध्यम से लगभग 6.1 लाख लाभार्थी लाभान्वित होंगे। इस अवसर पर, प्रधानमंत्री द्वारा योजना के लाभार्थियों से भी बातचीत की गई।

  • इन 6.1 लाख लाभार्थियों में से, 5.30 लाभार्थियों को पहली किस्त राशि प्रदान की गई है और 80000 लाभार्थियों को दूसरी किस्त प्रदान की गई है। केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
  • प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत अब तक 1.26 करोड़ पक्के मकान बनाए गए हैं। इस योजना के तहत, निर्माण के लिए स्थान 20 वर्ग मीटर से बढ़ाकर 25 वर्ग मीटर कर दिया गया है, जिसमें किचन एरिया भी शामिल है।
  • इस प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत मैदानी क्षेत्रों में 1.20 लाख रुपये और पहाड़ी क्षेत्रों में 1.30 लाख रुपये प्रदान किए जाएंगे। यह योजना 2015 में शुरू की गई थी।
  • प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत, देश के कमजोर वर्गों को अपना पक्का घर बनाने या पुराने घर की मरम्मत के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

PM Gramin Awas Yojana

इस योजना के तहत, सरकार 2022 तक वांछित लाभार्थियों को 1 करोड़ पक्के मकान प्रदान करेगी। इस योजना के तहत, लाभार्थियों का चयन 2011 की जनगणना के आधार पर किया जाएगा। ग्रामीण क्षेत्रों में आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को, PM Gramin Awas Yojana के माध्यम से, पक्के घर बनाने के लिए धनराशि सीधे बैंक खाते में स्थानांतरित की जाएगी और इस राशि से ग्रामीण क्षेत्रों के लोग अपना घर बनाने का सपना पूरा कर सकेंगे ।

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत दिए जाने वाले लोन की अवधि

प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत अधिकतम 30 वर्षों के लिए ऋण प्रदान किया जाता है। यदि लाभार्थी 30 वर्ष पूरा होने से पहले 65 वर्ष का हो जाता है, तो उसे 65 वर्ष की आयु प्राप्त करने से पहले ऋण चुकाना होगा। यदि कोई व्यक्ति इस अवधि से पहले भी ऋण चुकाना चाहता है, तो वह कर सकता है।

PM आवास योजना शहरी/ग्रामीण लाभार्थी कौन-कौन हैं?

मुख्य रूप से, निम्नलिखित श्रेणिओं में आने वाले व्यक्ति ही योजना के अंतर्गत आवेदन कर PMAY-G नई संशोधित सूची में अपना नाम प्राप्त कर सकते है।

  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग
  • महिलाएं (किसी भी जाति या धर्म की)
  • मध्य आय वर्ग 1
  • मध्य आय वर्ग 2
  • अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति
  • कम आय वाले लोग

पीएम ग्रामीण आवास योजना मुख्य तथ्य

  • कच्चा घर / जीर्ण-शीर्ण मकान में रहने वाले 100 करोड़ परिवारों को 2016-17 से 2018-19 तक तीन वर्षों में कवर किया जाना है।
  • 25 वर्गमीटर (from20sq.mt) तक हाइजीनिक कुकिंग स्पेस के साथ, घर के न्यूनतम आकार को बढ़ाया गया है।
  • यूनिट की सहायता 70,000 रुपये से बढ़ाकर 20 लाख रुपये कर दी गई है। पहाड़ी क्षेत्रों और पहाड़ी राज्यों में, कठिन क्षेत्रों और IAP जिले को 75,000 रुपये से बढ़ाकर 1.30 लाख रुपये कर दी गई है।
  • लाभार्थी MGNREGS से अकुशल श्रम के 90/95 व्यक्ति दिनों का हकदार है
  • केंद्र और राज्य सरकार के बीच सादे क्षेत्रों में 60:40 की लगत की इकाई सहायता और पूर्वोत्तर और हिमालयी राज्यों के लिए 90:10 के अनुपात की लगत में साझा की जानी है।
  • एक इच्छुक लाभार्थी को 70,000रुपये तक संस्थान वित्त प्राप्त करने की सुविधा दी जाएगी, जिसकी निगरानी SLBC और DLBC के माध्यम से की जाएगी।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत कर लाभ

  • धारा 80 सी के तहत, प्रति वर्ष 1.5 लाख तक की छूट गृह ऋण की मूल राशि के भुगतान पर आयकर में दी जाएगी।
  • a धारा 24 (बी) के तहत, होम लोन के ब्याज के भुगतान पर हर साल 200000 रुपये तक के आयकर में छूट दी जाएगी।
  • धारा 80 ईई के तहत, पहली बार घर खरीदारों को हर साल 50000 रुपये तक की कर राहत मिल सकती है।
  • धारा 80EEA के अनुसार, यदि आपकी संपत्ति किफायती आवास की श्रेणी में आती है, तो आपको प्रति वर्ष 1.5 लाख रुपये तक के ब्याज भुगतान पर आयकर छूट मिलेगी।

पीएम ग्रामीण आवास योजना के कंपोनेंट्स

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के चार घटक हैं, जो इस प्रकार है।

  • क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम: इस स्कीम के तहत, सरकार द्वारा होम लोन की ब्याज दरों पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी, जो सभी वर्गों के अनुसार अलग-अलग होगी।
  • सीटू स्लम पुनर्विकास में: इस योजना के तहत, सरकार द्वारा स्लम क्षेत्रों में रहने वाले परिवारों को मकान उपलब्ध कराए जाएंगे। सरकार, निजी संगठनों के साथ मिलकर सरकारी संसाधन के रूप में भूमि के साथ बस्तियों का पुनर्वास करेगी।
  • साझेदारी में किफायती आवास: इस योजना के तहत, आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को घर खरीदने के लिए केंद्र सरकार द्वारा डेढ़ लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • लाभार्थियों के नेतृत्व में व्यक्तिगत घर का निर्माण और वृद्धि: इस योजना के तहत घर के निर्माण या वृद्धि के लिए सरकार द्वारा डेढ़ लाख रुपये प्रदान किए जाएंगे।

PM Gramin Awas Yojana पात्रता मानदंड

  • ऐसे परिवार जिनमे 16 से 59 वर्ष की आयु का कोई वयस्क सदस्य नहीं योजना का लाभ ले सकते है।
  • ऐसे परिवार जिसमे महिला मुखिया है और 16 से 59 वर्ष की आयु का कोई वयस्क सदस्य नहीं है इस योजना के लिए पात्र है ।
  • परिवार जिसमे 25 वर्ष से अधिक आयु का कोई साक्षर वयस्क सदस्य नहीं है इस योजना का लाभ उठा सकते है ।
  • ऐसे परिवार जिनमे कोई सदस्य निशक्त जन हो या जिसमे कोई भी वयस्क सदस्य शारीरिक रूप से सक्षम न हो इस योजना के लिए पात्र है ।
  • दिहाड़ी मजदूरी करने वाले भूमिहीन परिवार भी इस योजना का लाभ ले सकते है ।
  • इस योजना के तहत लाभ लेने वाले परिवार की वार्षिक आय रु 3 लाख से रु 6 लाख के भीतर होनी चाहिए |

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना आवश्यक दस्तावेज

  • नौकरीपेशा लोगों के लिए
    • पहचान का प्रमाण
    • आय का प्रमाण
    • संपत्ति के दस्तावेज
  • कारोबारियों के लिए
    • व्यवसाय के पते का प्रमाण
    • आय का प्रमाण

ई पेमेंट करने की प्रक्रिया जाने

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Awassoft विकल्प के अंतर्गत “ई पेमेंट” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
PMAY-G e-Payment
  • अब इस पेज पर दिए गए बॉक्स में अपना मोबाइल नंबर डालें और जेनेरेट OTP का बटन दबाएं।
  • एक OTP आपके मोबाइल नंबर पर सेंड किया जायेगा इसे बॉक्स में डालें और लॉगिन करे।
  • लॉगिन करने के बाद आप पेमेंट मेथोड सेलेक्ट करके इ पेमेंट कर सकते है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट कैसे देखे?

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट 2021 देखने के लिए आप नीचे दिए गए चरणों को फॉलो कर सकते हैं

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
ग्रीवेंस स्टेटस
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Stakeholders विकल्प के अंतर्गत “IAY/ PMAY-G Beneficiary” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • अपना रजिस्ट्रेशन नंबर भरें और सर्च का बटन दबाएं और ऑनलाइन पीएमएवाईजी सूची  आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर खुल जाएगी। 
  • यदि आपके पास रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं है तो एडवांस सर्च का विकल्प चुनें और एक नया फॉर्म खुल जायेगा। 
  • इस फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारी भरे और सूचि देखने के लिए सर्च का बटन दबाये।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना ब्याज दर कैसे कैलकुलेट करे?

अगर देश के गरीब लोग ग्रामीण आवास योजना 2021 के तहत अपना घर बनाना चाहते हैं, लेकिन उनके पास पैसे की कमी है, तो ऐसे लोगों को छह प्रतिशत तक की वार्षिक ब्याज दर पर छह लाख रुपये तक का ऋण मिल सकता है और यदि आपको अपना घर बनाने के लिए इस राशि से अधिक धन की आवश्यकता है, तो उसके लिए आप साधारण ब्याज दर के साथ वह अतिरिक्त राशि ऋण पर ले सकते हैं। यदि आप  अपनी होम लोन राशि और ब्याज दर की गणना करना चाहते हैं, तो आप अपनी ब्याज दर के अनुसार ऑनलाइन वेबसाइट पर जाकर मासिक किस्त की जानकारी भी ले सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “Subsidy Calculator” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर दिए गए फॉर्म में आपको लोन की रकम, लोन की अवधि, ब्याज दर आदि भरना होगा। 
  • जानकारी भरने के बाद इसके उत्तर में आप सब्सिडी की रकम की जानकारी आसानी से प्राप्त कर पाएंगे।

SECC Family Member Details देखे

ऑफिसियल पोर्टल के माध्यम से SECC Family Member Details देखने के लिए आपको दिए गए आसान से चरणों का पालन करना होगा।

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Stakeholders विकल्प के अंतर्गत “SECC Family Member Detailsके विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
SECC Family Member Details देखे
  • इस पेज पर आप ड्राप डाउन लिस्ट में से अपने राज्य का चुनाव करें और फिर अपनी PMAYID भरें। 
  • जानकारी भरने के बाद Get Family Member Details का बटन दबाएं और सम्बंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर खुल जाएगी।

FTO Tracking भुगतान की स्थिति कैसे जाचे?

FTO Tracking भुगतान की स्थिति जाँचने की  चरण निचे दिए गए है

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Awaassoft विकल्प के अंतर्गत “FTO Tracking” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर दिए गए बॉक्स में अपना FTO नंबर या PFMS ID भरें। जानकारी भरने के बाद कॅप्टचा कोड डालें और सबमिट का बटन दबाएं।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना मोबाइल एप्लीकेशन कैसे डाउनलोड करे?

आप निचे दिए गए चरणों का पालन करके अपने मोबाइल फ़ोन में प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना एप्लीकेशन डाउनलोड कर सकते है 

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “Google Play” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना मोबाइल एप्लीकेशन
  • इस पेज पर आपको गूगल पालय स्टोर में Awas App के लिए इनस्टॉल का बटन दिखाई देगा। 
  • इस बटन पर क्लिक करे और ऐप आपके मोबाइल फ़ोन में डाउनलोड होना शुरू हो जायेगा। 
  • इंस्टालेशन की प्रक्रिया पूरा होने के बाद आप इस एप्लीकेशन का उपयोग कर सकते है। 

फीडबैक दर्ज करने की प्रक्रिया

आप दिए गए आसान से चरणों के द्वारा Pradhan Mantri GraminAwas Yojana 2020 में फीडबैक दर्ज करा सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको दाई तरफ दिए गए आइकन के अंतर्गत “फीडबैक” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
pm-gramin-awas-yojana
  • अब इस पेज पर आपको फीडबैक फॉर्म दिखाई देगा। इस फॉर्म में अपना नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी तथा फीडबैक भरें।
  • जानकारी भरने के बाद सबमिट का बटन दबाएं और आपकी फीडबैक दर्ज हो जाएगी।

पब्लिक ग्रेविंस दर्ज करने की प्रक्रिया

पब्लिक ग्रीवांस दर्ज करने के लिए आपको दिए गए आसान चरणों का पालन करना होगा

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको दाई तरफ दिए गए आइकन के अंतर्गत ” पब्लिक ग्रीवेंस ” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नयी वेबसाइट खुल जाएगी ।
  • अब इस वेबसाइट पर ग्रीवांस के विकल्प पर क्लिक करें और फिर इसकी सबमेन्यू में से लॉज पब्लिक ग्रीवेंस का लिंक चुने।
ग्रीवेंस स्टेटस
  • अब लॉगिन करे या रजिस्टर का बटन दबाकर रजिस्टर करे और शिकायत फॉर्म आपकी स्क्रीन पर होगा।
  • फॉर्म में मांगी गयी जानकारी भरे और अपनी शिकायत दर्ज कराएं।

ग्रीवेंस स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया

आप अपने द्वारा दर्ज शिकायत की स्थिति की भी जाँच कर सकते है इसके लिए दिए गए आसान से चरणों का पालन करे।

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको दाई तरफ दिए गए आइकन के अंतर्गत “पब्लिक ग्रीवेंस ” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नयी वेबसाइट खुल जाएगी ।
  • अब इस वेबसाइट पर ग्रीवांस के विकल्प पर क्लिक करें और फिर इसकी सबमेन्यू में से व्यू स्टेटस का लिंक चुने।
प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना ग्रीवेंस स्टेटस
  • अब दिए गए फॉर्म में अपना रजिस्ट्रेशन नंबर, ईमेल आईडी/ मोबाइल नंबर तथा सिक्योरिटी कोड भरे और सबमिट का बटन दबाएं।
  • आपका ग्रीवेंस स्टेटस आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

ग्राम पंचायत का विवरण देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “Stakeholders” से सेक्शन से “Gram Panchayat” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुल जायेगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- फाइनेंसियल ईयर का चयन करके यूजरनाम, पासवर्ड, कैप्चा कोड आदि दर्ज कर देना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद आपको “लॉगिन” के बटन पर क्लिक कर देना है। 
  • इस प्रकार आपके सामने ग्राम पंचायत से सम्बंधित जानकारी प्रदर्शित हो जाएगी। 

ब्लॉक पंचायत का विवरण देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “Stakeholders” से सेक्शन से “Block Panchayat” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुल जायेगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- फाइनेंसियल ईयर का चयन करके यूजरनाम, पासवर्ड, कैप्चा कोड आदि दर्ज कर देना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद आपको “लॉगिन” के बटन पर क्लिक कर देना है। 
  • इस प्रकार आपके सामने ब्लॉक पंचायत से सम्बंधित जानकारी प्रदर्शित हो जाएगी। 

DRDA / ZP डिटेल्स देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “Stakeholders” से सेक्शन से “DRDA/ZP” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुल जायेगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- फाइनेंसियल ईयर का चयन करके यूजरनाम, पासवर्ड, कैप्चा कोड आदि दर्ज कर देना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद आपको “लॉगिन” के बटन पर क्लिक कर देना है। 
  • इस प्रकार आपके सामने DRDA/ZP से सम्बंधित जानकारी प्रदर्शित हो जाएगी। 

Contact Us

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “Contact Us” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
PMAYG Technical Helpline Number
  • इस पेज पर आपको कांटेक्ट डिटेल्स की पूरी जानकारी मिल जाएगी।

Helpline Number

हमें उम्मीद है कि इस लेख में आपको PMAY-G ग्रामीण आवास संशोधित सूची से संबंधित सभी जानकारी मिली होगी। यदि आप अभी भी किसी भी तरह की समस्या का सामना कर रहे हैं, तो आप अपनी शिकायतें Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List के हेल्पलाइन नंबर पर भी दर्ज कर सकते हैं

  • Toll Free Number– 1800116446
  • Email- support-pmayg@gov.in

Also Read: किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट 2021: pmkisan.gov.in New List, पीएम किसान किस्त

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *